Free Online Ayurvedic Doctor Consulting. Contact No - 8624087060

Phitkari Powder

Rs. 500




Description

पनीर बनाने के लिए दूध को  पिसी हुई  Fitkari  डालकर फाड़ें । इस प्रकार बना हुआ पनीर अधिक स्वादिष्ट व मुलायम बनता है।

—  पशु पक्षी आदि को लगी चोट में   Fitkari  फायदेमंद होती है। पतंग के मांझे से घायल पक्षी को लगी चोट फिटकरी घुले पानी से धोएँ। ये पानी उसे थोड़ा सा पिला दें। इससे पक्षी जल्दी ठीक हो जाएगा। इसी प्रकार पशु को लगी चोट भी ठीक हो सकती है।

—   गर्म पानी में फिटकरी और नमक मिलाकर गरारे व कुल्ला करने से गले की खराश , मुंह की बदबू आदि ठीक हो जाते है।

—  मसूड़ों से खून आता हो तो  Fitkari  घुले पानी के कुल्ला करने से ठीक होता है।

—  चेहरे की झुर्रियाँ मिटाने के लिए  Fitkari  के टुकड़े को पानी में डुबोकर चेहरे पर हल्के हाथ से मलें। सूखने पर सादा पानी से धो लें। कुछ ही दिन में झुर्रियां मिट जाएँगी।

—  यदि जहरीला कीड़ा या बिच्छू काट ले तो पानी में  Fitkari  का पाउडर डालकर गाढ़ा घोल बनाकर लगाने से आराम मिलता है।

—  दांत में दर्द हो तो फिटकरी और काली मिर्च बराबर मात्रा में पीस कर इसे लगाएं। इससे दर्द कम हो जाता है।

—  शरीर पर लगी छोटी चोट से खून बह रहा हो तो फिटकरि का पाउडर चोट पर छिड़कने से खून रिसना बंद हो जाता है।

—  सिर में जुएँ हो गई हों तो फिटकरी मिले पानी से कुछ दिन सिर धोने से जुएँ खत्म हो जाएँगी।

—  बवासीर में फिटकरी का पाउडर मक्खन में मिलाकर मस्सों पर लगाएं ,लाभ होगा। Fitkari  मिले पानी से गुदा को भी चार पांच बार धोएँ। एक टब में Fitkari  मिला हुआ गुनगुना पानी भर लें। इसमें बैठ कर सिकाई करने से बवासीर में आराम मिलता है। ये उपाय करने से खूनी बवासीर भी ठीक हो जाते है।